एक कदम आगे, दो कदम पीछे By Mithilesh Kumar Singh

by OnlineGatha

बहु प्रतीक्षित किताब 'एक कदम आगे, दो कदम पीछे'...

लेखक, पत्रकार और उद्यमी मिथिलेश द्वारा रचित 'एक कदम आगे, दो कदम पीछे' का ई-वर्जन और पेपरबैक आप पब्लिशर से आर्डर कर सकते हैं. राजनीतिक और सामाजिक विषयों पर आधारित इस किताब में 51 अलग मुद्दों की शिनाख्त हुई है तो समाधान भी प्रस्तुत करने की कोशिश की गयी है.

वरिष्ठ साहित्यकार व समाजशास्त्री डॉ. विनोद बब्बर एवं वरिष्ठ व्यंग्यकार अर्चना चतुर्वेदी द्वारा इस पुस्तक की भूमिका लिखी गयी है तो दुसरे साहित्यकार, शिक्षाविद, उद्योगपतियों द्वारा लेखन और लेखन के बारे में संक्षिप्त राय व्यक्त की गयी है. लखनऊ स्थित ऑनलाइन-गाथा संस्थान ने इस किताब को प्रकाशित किया है, जिसमें कुल 152 पृष्ठों में कई भारतीय मुद्दों के साथ वैश्विक राजनीति के बारे में भी विस्तृत आंकलन देखने को मिल सकेगा.
अंततः यह किताब पाठकों के हवाले हो गयी है, जो इसके बारे में बेहतर राय व्यक्त कर सकते हैं और लेखक के असल उत्साहवर्धन के लिए इससे बढ़कर कुछ और नहीं!

You will get a PDF (2MB) file.

$ 4.14

$ 4.14

Buy Now

Discount has been applied.

Added to cart